Monday, 27 February 2017

राम नाम

कुछ करना है जिसे धरा पर, उसे कहाँ विश्राम,
सदा कार्य रत रहने से ही मिल सकते श्री राम ,
भौतिक युग में आज व्यस्त जीवन है सबका,
इतना समय कहाँ किसको है, ले ले जो हर नाम l डॉ हरिमोहन गुप्त